July 28, 2021

My UP News

My UP NEWS

आज ही के दिन हुई थी मुमताज महल की मौत, इनकी याद में ही बना था ताजमहल

आगरा (DVNA)। मुमताज महल का असली नाम अर्जुमंद बानो था। उनका जन्म 27 अप्रैल 1593 को आगरा में एक मुगल दरबारी के यहाँ हुआ था।

शाहजहाँ और मुमताज महल ने 14 साल की उम्र में सगाई कर ली। पांच साल बाद 10 मई, 1612 को शाहजहां और मुमताज महल ने शादी कर ली। शादी के बाद शाहजहाँ ने अर्जुमंद बानो का नाम मुमताज महल रखा। वह शाहजहाँ की तीसरी पत्नी और सबसे पसंदीदा बेगम थीं।

मुमताज महल की शादी 19 साल तक चली थी। दुनिया का अजूबा ताजमहल जिसकी याद में बनवाया गया उस मुमताज महल की मृत्यु आज ही के दिन यानि 17 जुलाई 1631 को बुरहानपुर में हुई थी।

मुमताज महल की क़ब्र पहले आगरा में नहीं थी। मुमताज़ महल की मृत्यु के बाद, उन्हें उस समय बुरहानपुर जिले के ज़ैनाबाद में दफनाया गया था। वह इमारत आज भी वहां मौजूद है। बुरहानपुर में उनके दफन के छह महीने बाद, मुमताज महल के अवशेषों को एक भव्य जुलूस की शक्ल में आगरा लाया गया और ताजमहल के गर्भगृह में दफनाया गया।

Auto Fatched From DVNA