October 25, 2021

My UP News

My UP NEWS

मुंबई में भारी बारिश से लोकल ट्रेन सेवा हुई प्रभावित

मुंबई (DVNA)। मुंबई और मुंबई महानगर क्षेत्र (एमएमआर) में रात भर हुई भारी बारिश के कारण सड़क और रेल यातायात प्रभावित हुआ है। हालांकि छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर संचालन सामान्य रहा। वहीं मलाड, सांताक्रूज, दहिसर के निचले इलाकों के अलावा दादर, परेल, वडाला, सायन के पुराने स्थानों से जल-जमाव की सूचना मिली है।
मध्य रेलवे की मुख्य लाइन के साथ हार्बर लाइन पर भी उपनगरीय ट्रेनें अपने निर्धारित समय से 20 से 25 मिनट की देरी से चल रही हैं। कोविड-19 महामारी के मद्देनजर लोकल ट्रेन सेवा सिर्फ स्वास्थ्य एवं आवश्यक सेवा से जुड़े कर्मियों के लिए चल रही है। आम यात्रियों को अभी लोकल ट्रेनों में सफर की अनुमति नहीं है।
नगर निगम से मिली जानकारी के अनुसार, शहर में आज सुबह से ही बारिश हो रही है लेकिन इसके उपनगरों में अधिक बारिश की सूचना है। तीन घंटे के दौरान, सुबह सात बजे तक मुंबई में 36 मिमी बारिश हुई जबकि पूर्वी और पश्चिमी उपनगरों में क्रमश: 75 मिमी और 73 मिमी बारिश हुई।
पूर्वी मुंबई में कुर्ला स्टेशन के पास पटरियों पर जल-जमाव के कारण, मुख्य लाइन (छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस और कुर्ला के बीच) और हार्बर लाइन (सीएसएमटी-वाशी-पनवेल) पर उपनगरीय ट्रेन सेवाएं सुबह से प्रभावित हैं।
उन्होंने बताया कि कुर्ला-विद्याविहार के बीच धीमी लाइन ट्रेन यातायात को तीव्र गति की लाइन की ओर मोड़ दिया गया है। उन्होंने बताया कि हार्बर लाइन पर लोकल निर्धारित समय से 20-25 मिनट देरी से चल रही हैं।
उन्होंने बताया, हालांकि ठाणे-वाशी ट्रांसहार्बर मार्ग पर ट्रेनें तय समय से चल रही हैं। मध्य रेलवे मुंबई महानगरीय क्षेत्र में चार अलग-अलग उपनगरीय कॉरिडोर पर उपनगरीय ट्रेन सेवाएं चलाता है। महामारी के प्रकोप से पहले यह 1,700 से अधिक उपनगरीय सेवाओं का संचालन करता था और रोजाना 40 लाख से अधिक यात्री इनमें सफर करते थे।
पुणे के जलवायु अनुसंधान और सेवा के प्रमुख के.एस. होसलीकर ने सुबह 8.30 बजे सैटेलाइट तस्वीरें साझा किए, जिससे पता चलता है कि मुंबई उपनगरों और ठाणे के उपर घने बादल छाए हुए हैं और 3-4 घंटों में तेज बारिश हो सकती है।
उन्होंने कहा कि पूरा तटीय कोंकण बादलों से ढका हुआ है और उत्तरी कोंकण-मुंबई को सतर्क रहने की जरूरत है।
बृहन्मुंबई नगर निगम अलर्ट मोड पर है और मोठी नदी के जल स्तर पर नजर रखी जा रही है।
बहरहाल, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शहर और उपनगरों में मध्यम से भारी वष्रा का और शुक्रवार को अलग-अलग स्थानों पर बहुत अधिक भारी वष्रा का पूर्वानुमान जताया था।

Auto Fatched From DVNA