September 23, 2021

My UP News

My UP NEWS

कोरानाकाल में कड़कनाथ मुर्गा इम्यनिटी बूस्टर का काम कर सकता है

झाबुआ-डीवीएनए। कोरोना काल में रोग प्रतिरोधक क्षमता को लेकर लगातार चचा हो रही है। जिन मरीजों की इम्युनिटी अच्छी है वे कोरोना को मात देने में कामयाब रहे। लगातार स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा लोगों को जागरुक किया जाता रहा कि अपने खान-पान पर ध्यान रखें ताकि इम्युनिटी बेहतर रहे और कोरोना काल में आपका स्वास्थ्य अच्छा रहे ऐसे में कड़कनाथ मुर्गा इम्युनिटी बूस्टर का काम कर सकता है।
मध्य प्रदेश के झाबुआ कड़कनाथ रिसर्च सेंटर और कृशि विज्ञान केंद्र ने इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) को चिऋी भेज ऐसा दावा किया है। झाबुआ कड़कनाथ रिसर्च सेंटर की ओर से दावा किया गया है कि कड़कनाथ मुर्गे के मांस में हाई प्रोटीन, विटामिन, जिंक और लो फैट पाया जाता है और कोलेस्ट्रोल फ्री होता है। इसलिए ये पोस्ट कोविउ और कोविड के दौरान डाइट प्रोटोकॉल में शामिल किया जाना चाहिए। रिसर्च सेंटर ने जो चिऋी आईसीएमआर को भेजी है उसमें नेशनल मीट रिसर्च सेंटर और मेडिकल जर्नल रिपोर्ट की कॉपी भी लगाई गई है। झाबुआ कड़कनाथ रिसर्च सेंटर और कृषि विज्ञान केंद्र ने दावा किया है कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए जाने के लिए कड़कनाथ को डाइट में शामिल किया जाना चाहिए। रिसर्च सेंटर का दावा है कि प्रसिद्ध कड़कनाथ मुर्गा इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार साबित होता है। कड़कनाथ मुर्गे का मीट, अंडा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। कड़कनाथ मुर्गा प्रोटीन व अन्य गुणों के साथ स्वाद के लिए भी देश में विख्यात है।
दरअसल कोरोना के खिलाफ लड़ाई में आपकी इम्युनिटी सबसे बड़ा हथियार है। अगर इम्युनिटी मजबूत है तो आप कोरोना को हरा सकते हैं। हालांकि इसके बाद भी गिरती इम्युनिटी अक्सर जानलेवा साबित हो जाती है। ऐसे में हाई प्रोटीन डाइट की सलाह दी जाती है। ऐसे में झाबुआ रिसर्च सेंटर का दावा सही निकला तो कड़कनाथ मुर्गा अच्छा विकल्प साबित हो सकता है।

Auto Fatched From DVNA