November 27, 2021

My UP News

My UP NEWS

संभावित तीसरी लहर को रोकने हेतु कोविड अनुकूल व्यवहार एवं कोरोना प्रोटोकॉल का पालन सभी से करवाएं : प्रभारी मंत्री सिंधिया

भोपाल (डीवीएनए)। खेल एवं युवा कल्याण, कौशल विकास एवं रोजगार, तकनीकी शिक्षा मंत्री एवं जिला प्रभारी मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने आगर-मालवा जिले में कोरोना संक्रमण के फैलाव पर प्रभावी नियंत्रण होने पर कलेक्टर अवधेष शर्मा सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी, स्वास्थ्यकर्मी एवं जनप्रतिनिधियों के प्रयासों की सराहना करते हुए बधाई दी है। प्रभारी मंत्री सिंधिया द्वारा आज मंगलवार को वर्चुअल माध्यम से जिले में कोविड-19 रोकथाम एवं टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा की गई। बैठक में कलेक्टर द्वारा कोविड-19 की रोकथाम हेतु की गई व्यवस्थाओं एवं संक्रमितों को उपलब्ध कराए गए इलाज, ऑक्सीजन सप्लाई व्यवस्था इत्यादि की विस्तार से जानकारी दी गई।
वर्चुअल मीटिंग में विधायक विक्रम सिंह राणा, पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सगर, जिला पंचायत सीईओ दीतू सिंह रणदा, अपर कलेक्टर अशफाक अली एवं अन्य अधिकारियों ने सहभागिता की।
प्रभारी मंत्री सिंधिया ने कहा कि कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर को रोकने के लिए प्रशासनिक अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि मिलकर आगे भी ऐसे प्रयास करें। जिले में कोरोना संक्रमण नियंत्रण में रहे, इसके लिए जरूरी एहतियात बरतें। कोविड अनुकूल व्यवहार एवं कोरोना प्रोटोकॉल का पालन सभी से करवाया जाए। उन्होंने कहा कि बिना फेस मास्क कवर के घूमना एवं सोशल दूरी का पालन न करना बीमारी को आमंत्रण देना है। इसलिए सभी से इसका पालन करवाए। फेस मास्क कवर का उपयोग एवं सोशल डिस्टेंस मेंटेन होगी, तो कोरोना संक्रमण का विस्तार नहीं होगा। सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठानों पर दो गज की दूरी का पालन करवाए तथा भीड़ एकत्रित न होने दी जाए।
प्रभारी मंत्री सिंधिया ने कहा कि सभी सेवा-प्रदाताओं एवं उनके परिजनों का प्राथमिकता से टीकाकरण किया जाए। सेवा-प्रदाता का टीकाकरण होने के उपरान्त ही वे अपनी सेवाएं नागरिकों को प्रदान करें। जिससे की सेवा-प्रदाता स्वयं एवं अन्य लोगों को संक्रमण से सुरक्षित रखा जा सके। सभी फ्रंटलाईन वर्कर एवं अन्य जिन्हें कोरोना वैक्सीन का पहला टीका लग चुका है, उन्हें दूसरा टीका भी समय-सीमा में लगाए। आरटीपीसीआर टेस्ट तथा कान्टेक्ट ट्रेसिंग का कार्य निरंतर किया जाए। प्रभारी मंत्री सिंधिया ने कहा कि जिले में कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत बेड, ऑक्सीजन सप्लाई, दवाईयाँ सहित सभी आवश्यक व्यवस्था रखी जाए। कोरोना संक्रमण के अधिक से अधिक टेस्ट जिले में किये जाए। भीड़-भाड़ वाले कार्यक्रम न आयोजित होने दें और कार्यक्रमों के लिए जितने व्यक्तियों की छूट प्रदान की गई है, उसका पालन करवाएं।

Auto Fatched From DVNA