June 15, 2021

My UP News

My UP NEWS

ग्रामीण क्षेत्रों में भी फैला कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप

ग्रामीण क्षेत्रों में भी फैला कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप

नई दिल्ली-डीवीएनए। देश में कोरोना की दूसरी लहर ने ऐसा कोहराम मचा रखा है जो शहरी क्षेत्रों के बाद अब ग्रामीण क्षेत्रों में भी अपना विकराल रूप दिखा रहा है। इस लहर में ग्रामीण क्षेत्रों में महामारी ने हाहाकार मचा रखा है। इसमें हरियाणा के गांव में दो दिन में ही कम से कम कोरोना से 40 लोगों की मौत हुई। तो महाराष्ट्र, यूपी, बिहार, गुजरात जैसे कई राज्यों में ग्रामीण इलाकों में भी संक्रमण तेजी से फैल रहा है। हो रही है।
कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र है। यहां पिछले कुछ समय से हर रोज 60 हजार से ज्यादा नए केस सामने आ रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण के फैलने के बारे में बताया गया है कि हरियाणा के ग्रामीण अंचलों में कोविड मामलों में बेतहाशा बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। रोहतक शहर से 10 किलोमीटर दूर टिटोली गांव में पिछले दस दिनों में कोरोना से 40 लोगों की मौत हो गई है। गांव में हड़कंप मचा हुआ है। हालांकि जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की ओर से ग्रामीणों की कोविड जांच की जा रही है। साथ ही पॉजिटिव आने पर आइसोलेट होने को कहा जा रहा है। इसी प्रकार महाराष्ट्र के ग्रामीण क्षेत्रों में 521 मौतें दर्ज की गई हैं। अमरावती में कोविड-19 के नए हॉटस्पॉट वारुद, अचलपुर, मोरशी, अंजनगांव सुरजी और तिवसा है। प्रशासन यहां पर कोविड केयर सेंटर शुरू करने की योजना बना रहा है। वहीं नागपुर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। 5 मई को, नागपुर शहर में 36, 648 एक्टिव केस सामने आए, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में 29,568 सक्रिय मामले थे स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक नागपुर तहसील के तहत 14 तहसीलों में, 112 कोविड परीक्षण केंद्र हैं। इसमें ग्रामीण अस्पताल और निजी लैब भी शामिल हैं।
उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे में कानपुर देहात और ग्रामीण इलाकों में कोरोना मामलों में भारी इजाफा हुआ है। 5 मई को शहर ने 24 घंटों में 67 लोगों की मौत हुई है। राज्य में लागू लॉकडाउन को अगले हफ्ते तक के लिए बढ़ा दिया गया है। कानपुर शहर और देहात की स्थिति बिगड़ती जा रही है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोरोना मरीजों को उचित परामर्श दिया जा रहा है। गुजरात के गांवों में कोरोना की वजह से स्थिति भयावह होती जा रही है। बताया गया है कि यहां शहर से ज्यादा गांव में कोरोना मरीज निकल रहे हैं।