September 23, 2021

My UP News

My UP NEWS

जुबांबन्दी कर हिटलरशाही अपना रही सरकार: वामपंथी

चित्रकूट (डीवीएनए)। वामपंथी दलों ने महंगाई विरोधी राष्ट्रव्यापी अभियान को आगे बढाते हुए भाकपा-माकपा ने जुलूस निकालकर नारेबाजी करते हुए जिला कचहरी से तहसील मुख्यालय पहुंचकर धरना प्रदर्शन किया।
बुधवार को धरना प्रदर्शन की अध्यक्षता करते हुए माकपा जिला सचिव का रुद्र प्रसाद मिश्र एड ने कहा कि सभी वस्तुओं के दामों में लगातार वृद्धि से कोरोना महामारी से तबाह लोगों की रोजी-रोटी पर हमले हो रहे हैं। जनता की मदद करने की बजाय मोदी सरकार मई में विधानसभा चुनाव के बाद से पेट्रोलियम उत्पादों के दामों में 21 बार वृद्धि कर चुकी है। महंगाई बढकर 11 साल के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गई है।
सभा का संचालन करते हुए भाकपा जिला सचिव का अमित यादव एड ने कहा कि केन्द्र सरकार पांच राज्यों के चुनाव के बाद पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में की गई समूची वृद्धि को एकमुश्त रद्द करना चाहिए। राज्य सरकार को लगे वैट को कम कर जनता को राहत देनी चाहिए। मोदी सरकार नवनिहालों को शिक्षा से दूर, बेरोजगारों को रोजगार से दूर कर पहले नोटबन्दी फिर रेल बन्दी अब जुबान बन्दी कर हिटलरशाही का रास्ता अपना रही है। मोदी सरकार को आयकर सीमा से नीचे सभी परिवारों को छह माह के लिए साढ़े सात हजार रुपये नकद देना चाहिए।
इस मौके पर सीपीआई के वरिष्ठ नेता का चन्द्रपाल पाल ने कहा कि सरकार मजदूरों के लिए एक हजार मासिक मदद देना चाहिए। किसानों की बदहाली के लिए मोदी सरकार बिजली के दामों, खाद-बीज के दाम जिस अनुपात में बढ रहे हैं उससे किसान तबाही की कगार पर आ गया है। धरना सभा में का राजेन्द्र कुमार, दादूराम, हनुमान, रामप्रताप विश्वकर्मा, श्रीपाल प्रजापति, ओमप्रकाश सिंह, अमरनाथ, रामू, शिवभजन, बेलिया, भानमती, कलमतिया, अरुणपाल, रमेश, देशराज, बुद्धविलाश, प्रेमनारायण, सुरेश, राजाराम समेत सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

Auto Fatched From DVNA