October 25, 2021

My UP News

My UP NEWS

संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को लगातार जागरूक किया जाए: योगी

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा कोविड नियंत्रण के सम्बन्ध में अपनायी जा रही रणनीति अत्यन्त कारगर सिद्ध हो रही है। उन्होंने कहा कि विभिन्न प्रदेशों में कोरोना वायरस के नये वैरिएंट के प्रकाश में आने के दृष्टिगत राज्य में निरन्तर सावधानी बरती जाए। संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को लगातार जागरूक किया जाए।
​​​​​​​
मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि विगत 24 घण्टों में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 174 नए मामले प्रकाश में आए हैं। इसी अवधि में 254 संक्रमित व्यक्तियों का सफल उपचार करके डिस्चार्ज किया गया। वर्तमान में संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या 2,946 है।
मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में कुल 2,37,783 कोरोना टेस्ट किये गये हैं। राज्य में अब तक 05 करोड़ 75 लाख 86 हजार 240 कोविड टेस्ट किए गए हैं। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.5 प्रतिशत है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण के सम्बन्ध में विशेषज्ञों के भविष्य के आकलनों के दृष्टिगत चिकित्सा सुविधाओं को सुदृढ़ किये जाने का कार्य तेजी से किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी जनपदों में पीकू व नीकू बेड तीव्र गति से स्थापित किये जाएं।
मुख्यमंत्री ने मेडिकल काॅलेजों एवं अस्पतालों में मानव संसाधन की उपलब्धता की जानकारी प्राप्त करते हुए रिक्तियों को यथाशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि मेडिकल काॅलेजों एवं अस्पतालों में विभिन्न रिक्तियों को भरने के लिए निरन्तर कार्यवाही की जा रही है। इसके अलावा पीडियाट्रिक केयर के सम्बन्ध में चिकित्सकों एवं नर्सिंग स्टाफ के प्रशिक्षण की कार्यवाही प्रगति पर है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस की लड़ाई में कोविड प्रोटोकाॅल का अक्षरशः पालन करना होगा, क्योंकि थोड़ी सी भी लापरवाही भारी पड़ सकती है। मास्क के अनिवार्य उपयोग, दो गज की दूरी, स्वच्छता और सैनिटाइजेशन जैसे कोविड बचाव सम्बन्धी व्यवहार को पूरी तरह अपनाना होगा। कहीं भी भीड़ एकत्र न होने पाए इसके लिए पुलिस द्वारा प्रभावी पेट्रोलिंग की जाए।
बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि सीरो सर्वे के प्रारम्भिक परिणाम अच्छे संकेत देने वाले हैं। सर्वेक्षण में 60 से 70 फीसदी लोगों में हाई लेवल एण्टीबाॅडी की पुष्टी हुई है। कोरोना वायरस के परीक्षण के लिए प्रदेश में जीनोम सिक्वेंसिंग की सुविधा बढ़ाई जा रही है। आई0जी0आई0बी0, नई दिल्ली में कराए गये साढ़े पांच सौ सैम्पल परीक्षण में किसी में भी कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वैरिएण्ट की पुष्टि नहीं हुई है। 80 प्रतिशत सैम्पल कोविड की दूसरी लहर के डेल्टा वैरिएण्ट के ही पाए गये हैं।
मुख्यमंत्री ने राज्य में निर्माणाधीन ऑक्सीजन संयंत्रों की प्रगति के सम्बन्ध में भी जानकारी प्राप्त की। उन्हें अवगत कराया गया कि ऑक्सीजन संयत्रों की स्थापना की कार्यवाही तेजी से चल रही है। इन कार्यों की विभिन्न स्तर पर नियमित समीक्षा की जा रही है। जनपद हापुड़, सिद्धार्थनगर तथा कुशीनगर के ऑक्सीजन प्लाण्ट संचालित हो जाने के बाद अब राज्य में 121 ऑक्सीजन संयंत्र क्रियाशील हो गये हैं। राज्य में ऑक्सीजन की पर्याप्त बैकअप के साथ उपलब्धता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छता, सैनिटाइजेशन तथा फाॅगिंग की कार्यवाही प्रभावी ढंग से जारी रखी जाए। जल-जमाव को रोकने के लिए नाले व नालियों की सफाई करा ली जाए।

Auto Fatched From DVNA