September 27, 2021

My UP News

My UP NEWS

भारत में देरी से आएगी कोरोना की तीसरी लहर, ICMR की रिपोर्ट की राहत के बीच टीकाकरण के लिए मिलेगा समय

नई दिल्ली (डीवीएनए)। केंद्र सरकार के कोविड-19 वर्किंग ग्रुप के प्रमुख एनके अरोड़ा ने कहा कि देश में कोरोना की तीसरी लहर दिसंबर तक टल सकती है। डॉ. अरोड़ा ने कहा कि आईसीएमआर की स्टडी से पता चला है कि तीसरी लहर देश में देरी से आएगी। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा होने पर देश को टीकाकरण का समय मिल जाएगा। सरकार ने हर दिन 1 करोड़ डोज देने का लक्ष्य रखा है।
सेंट्रल पैनल के चेयरमैन ने कहा कि देश में सबको टीका लगाने के लिए हमारे पास 6-8 महीने का समय है। उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले दिनों में सरकार हर दिन 1 करोड़ लोगों को टीका लगाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि तीसरी लहर डेल्टा प्लस वेरिएंट की वजह से आएगी, ऐसा अभी नहीं कहा जा सकता है। हालांकि उन्होंने इससे इनकार भी नहीं किया। डॉ. अरोड़ा ने कहा कि लहर नए वेरिएंट्स या नए म्यूटेशन से जुड़े होते हैं, इसलिए इसकी संभावना है, क्योंकि यह एक नया वेरिएंट है। लेकिन यह तीसरी लहर लगाएगा, ऐसा कहना अभी मुश्किल है, क्योंकि यह दो या तीन चीजों पर निर्भर करता है।
टाली जा सकती है तीसरी लहर?
डेल्टा प्लस वेरिएंट के बढ़ते केसों के बीच देश में कोरोना की तीसरी लहर आशंका बढ़ती जा रही है, लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि इसे टाला भी जा सकता है। जिन देशों में 20 फीसदी से अधिक आबादी का टीकाकरण हो चुका है, वहां तीसरी लहर नहीं आई है। आईसीएमआर और इंपीरियल कॉलेज लंदन के वैज्ञानिकों की एक स्टडी में कहा गया है कि तीसरी लहर दूसरी लहर की तरह तबाही नहीं मचाएगी।

Auto Fatched From DVNA