June 15, 2021

My UP News

My UP NEWS

कोरोना की जांच के लिए दिए दो सौ करोड़, अतिरिक्त बजट मंजूर

कोरोना की जांच के लिए दिए दो सौ करोड़, अतिरिक्त बजट मंजूर

भोपाल। कोरोना की जांच के लिए स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभाग को सौ करोड़ रुपये दिए गए हैं। इसके अलावा लगभग 500 करोड़ रुपये कोरोना की रोकथाम के लिए प्रचार-प्रसार, उपचार, संविदा अमले के वेतन-भत्ते और पथ विक्रेताओं के खातों में जमा करने के लिए अतिरिक्त तौर पर दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि कोरोना से लड़ाई के लिए बजट की कमी न आने दी जाए। वित्त विभा ने भी स्पष्ट कर दिया है कि इसके लिए यदि जरूरत पड़ी तो कुछ विभागों के बजट में कटौती भी की जा सकती है। कोरोना संकट से निपटने के लिए स्वास्थ्य के अलावा चिकित्सा शिक्षा और राजस्व विभाग प्रत्यक्ष रूप से राशि खर्च कर रहे हैं। स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभाग को नियमित बजट के अलावा अतिरिक्त राशि भी उपलब्ध कराई गई है। इसमें स्वास्थ्य विभाग को वर्ष 2020-21 के लगभग दो सौ करोड़ रुपये का उपयोग करने की अनुमति वित्त विभाग ने दी है। इसके अलावा 282 करोड़ रुपये के प्रस्ताव को हाल में स्वीकृति दी गई है। इसमें से सौ करोड़ रुपये कोरोना से जुड़ी जांच पर खर्च किए जाएंगे। संविदा आधार पर जो स्टाफ राा गया है, उसके वेतन-भत्ते के लिए बीस करोड़ रुपये रखे गए हैं। वित्त विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने समीक्षा के दौरान स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए राशि मांगी जाए, वो परीक्षण के बाद तत्काल उपलब्ध कराई जाए। कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए बजट की कमी आड़े नहीं आनी चाहिए। वही वजह है कि स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा के प्रस्ताव को हाथों-हाथ सेवानिवृत्ति दी गई।